You are here
Home > Health and Food > Touching the currency can cause the corona virus to become infected with cash transactions

Touching the currency can cause the corona virus to become infected with cash transactions

health and medicine

Touching the currency can cause the corona virus to become infected with cash transactions.Can currency be spread by notes and coins public use digital payment for transactions

इस पोस्ट को हिंदी में पढ़ने के लिया पेज को नीचे की और स्क्रोल करो, इस पोस्ट को पूरा पढ़ें क्या पता आपके लिए कौन सा पॉइंट हेल्पफुल हो

Read this post completely. Which point is helpful for you?

To prevent the corona virus epidemic, the Reserve Bank of India suggested that ‘the public should at present avoid using cash and use digital means of payment for transactions’.

RBI Chief General Manager Yogesh Dayal has said, “There may be a need to go to crowded places to send cash or pay bills. For this, two people also have contact, which need to be saved at the moment.”

The central bank has suggested people to use the funds transfer facilities like NEFT, IMPS, UPI and BBPS which are available round the clock.

According to the news the Central Bank of China, ‘With the help of Ultraviolet Light, currency notes are being cleared. After this, these notes will be kept sealed for 14 days and only then they will be circulated in public.

Scientific understanding says that ‘corona virus can be released in the form of droplets i.e. micro drops through human nose or mouth.’

That is, if you do not wash your hands after taking an infected bill, note or coin, it can prove to be dangerous.

The World Health Organization has said that even if you come in contact with infected cash, you can avoid the problem by washing your hands after taking or giving it.

The World Health Organization has emphatically stated, ‘Do not touch your face, mouth, nose, ears or eyes after taking currency notes or coins in countries where the corona virus infection has spread.

करेंसी को छूने से नकदी लैन देन से कोरोना वायरस संक्रमित हो सकते हैं? क्या करेंसी नोट और सिक्कों से भी फैल सकता है

corona virus महामारी को रोकने के लिए भारतीय रिज़र्व बैंक Reserve Bank of India suggested ने सुझाव दिया है कि ‘जनता फ़िलहाल नकदी cash उपयोग करने से बचे और लेन-देन के लिए भुगतान के digital payment डिजिटल साधनों का प्रयोग करे.’

आरबीआई Reserve Bank of India ने कहा है, “नकद cash राशि भेजने या बिल का भुगतान करने के लिए भीड़भाड़ वाली जगहों पर जाने की आवश्यकता हो सकती है. इसके लिए दो लोगों में संपर्क भी होता है जिससे फ़िलहाल बचने की ज़रूरत है.”

केंद्रीय बैंक ने लोगों को सुझाव suggested दिया है कि वे एनईएफ़टी, आईएमपीएस, यूपीआई और बीबीपीएस NEFT, IMPS, UPI and BBPS जैसी फंड ट्रांसफ़र की सुविधाओं transfer facilities का इस्तेमाल करें जो चौबीसों घंटे उपलब्ध हैं

चीन के केंद्रीय बैंक Central Bank of China के हवाले से प्रकाशित हुई ख़बर के अनुसार ‘अल्ट्रावायलेट लाइट Ultraviolet Light की मदद से करेंसी नोटों currency notes को साफ़ किया जा रहा है. इसके बाद इन नोटों को 14 days के लिए सील करके रखा जाएगा और उसके बाद ही इन्हें public जनता में सर्कुलेट किया जाएगा.’

वैज्ञानिक समझ यह कहती है कि ‘कोरोना वायरस  corona virus ड्रॉपलेट यानी सूक्ष्म बूंदों के रूप में ही मनुष्य की नाक nose या मुँह mouth के ज़रिए शरीर में जा सकता है.’

यानी कोई संक्रमित बिल, नोट या सिक्का हाथ में लेने के बाद अगर हाथों को ना धोए, तो यह ख़तरनाक़ साबित हो सकता है.

विश्व स्वास्थ्य संगठन World Health Organization ने कहा है कि ‘अगर आप संक्रमित नकदी के संपर्क में आते भी हैं, तो उसे लेने या देने के बाद अपने हाथ धोकर आप समस्या को टाल सकते हैं.

विश्व स्वास्थ्य संगठन World Health Organization ने ज़ोर देकर कहा है कि ‘जिन देशों में कोरोना वायरस  corona virus संक्रमण फैला है, वहाँ के करेंसी नोट या सिक्के हाथ में लेने के बाद, अपने चेहरे, मुँह, नाक, कान या आँख touch your face, mouth, nose, ears or eyes को ना छुएं.

Subscribers and Get More Solution Send Email ID

Postbcc provide latest update news, Tips and Trick for technical solution, Biography, Punjab History, indian history, entertainment related content Like and Share Facebook Page

Recommended For You

Top