You are here
Home > Editorial > Recycling of Plastic Waste, Environment harmful effects Pollution, Ban rule

Recycling of Plastic Waste, Environment harmful effects Pollution, Ban rule

Recycling of Plastic Waste, Environment harmful effects Pollution, Ban rule

Plastics  Environment plastic harmful effects plastic harmful chemicals plastic harmful to animals plastic harmful to humans plastic harmful to health protection and implementation in city what type of polythene ban in city How Many Cities Have a Ban on Plastic Bags

हिंदी में पढ़ने के लिया पेज को नीचे की और स्क्रोल करो

Recycling of Plastic Waste, Environment harmful effects Pollution, Ban rule

This time our Environment Day was June 5, 2018. The theme was “Beat Plastic Pollution”
This meant that people had to be aware of plastic pollution and people had to tell about plastic pollution. How much plastic is happening day and night for us and how much of our environment is affecting and harming

How plastic is being harmful to us, we talk about it, as every person uses any plastic item and then throw it away after a while, then the plastic thing is not over. As soon as our rivers and oceans reach the sea, then this plastic can be made into small pieces by becoming a micro-plastic, through water, in our food items. Areas are. Micro plastics are very harmful for our health, which is the likelihood of a serious disease like cancer

When the plastic was banned in India

Plastics Waste Management Rules of India (published in March 2016)
Plastic bags below 50 micron thickness is said to ban the bag, more than 20 Indian states have announced the ban on plastic bags. Cities such as Bangalore have imposed a full ban and manufacture, supply, sale and thermocoule and plastic items of plastic bags.

The Central Pollution Control Board report of the Central Pollution Control Board said that citizens should be aware of environmental and social responsibilities, companies should also be held responsible in their context which makes plastic bags like carry bags, banners, bunings, flakes , Flags, plates, clips, spoon used during meals, milk packets, all these companies should impose harsh penalties
According to sources, plastic waste of India is estimated to be 16 million tons of plastic waste annually. it happens

It is time that we all need to take full consideration how to reduce the plastic waste and it should be minimized and in the coming time we can make our environment and our life good and our next generation generation can  safe live.

Our Social Responsibility to reduce plastic pollution

1   Avoid plastic polythene used Home Made Bag

2   Recycle Process used

3  If you Purchase food, vegetable  like pasta, and rice in bulk so used reusable bag

4  Avoid  Thermocol Cup and Plate, Water bottle

 

प्लास्टिक अपशिष्ट का पुनर्चक्रण, पर्यावरण हानिकारक प्रभाव प्रदूषण, प्रतिबंध नियम

इस बार हमारे एनवायरनमेंट डे June 5, 2018. पर थीम था “Beat Plastic Pollution”
इसका मतलब लोगों को प्लास्टिक प्रदूषण के बारे जागरूक करवाना था और लोगों को प्लास्टिक पोलूशन के बारे में बताना था. प्लास्टिक दिन-ब-दिन हमारे लिए कितनी हानिकारक और जानलेवा हो रही है और हमारे वातावरण को कितना प्रभावित और नुकसान पहुंचा रही है

प्लास्टिक हमारे लिए किस तरह हानिकारक हो रही है इसके बारे में हम बात करते हैं जैसे हर व्यक्ति कोई भी प्लास्टिक की चीज इस्तेमाल करता है और कुछ समय बाद उसे फेंक देता है तो वह प्लास्टिक की चीज खत्म नहीं होती वह हमारी जमीन पर जा फिर किसी तरह हमारी नदियों और समुद्रों तक पहुंच जाती है तो फिर यह प्लास्टिक छोटे-छोटे टुकड़ों में माइक्रो प्लास्टिक बन कर पानी के जरिए हमारे खाने की चीजों में आ जाते हैं. जो माइक्रो प्लास्टिक हमारे सेहत लिए बहुत हानिकारक होते हैं जिसके कारण हमें कैंसर जैसी गंभीर बीमारी होने की संभावना होती है

भारत में प्लास्टिक पर कब प्रतिबंध लगाया गया

भारत के प्लास्टिक अपशिष्ट प्रबंधन नियम (मार्च 2016 में प्रकाशित)
plastic bags below 50 micron thickness बैग पर प्रतिबंध लगाने के लिए कहा जाता है 20 से अधिक भारतीय राज्यों ने प्लास्टिक बैग पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की है।बेंगलुरू जैसे शहरों ने एक पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया है और plastic bags का निर्माण, आपूर्ति, बिक्री और थर्मोकॉल और प्लास्टिक आइटम।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड Central Pollution Control Board की रिपोर्ट में कहा गया है नागरिकों को पर्यावरण और सामाजिक जिम्मेदारियां के बारे में पता होना चाहिए कंपनियों को भी उनके संदर्भ में जिम्मेदार ठहराया जाना चाहिए जो plastic bags बनाती है जैसे कैरी बैग, बैनर, बुनिंग्स, फ्लेक्स, झंडे, प्लेट्स, क्लिप,भोजन के दौरान इस्तेमाल चम्मच, दूध पैकेट इन सब कंपनी को कठोर जुर्माना लगाना चाहिए
सूत्रों के अनुसार भारत के plastic waste का अनुमान लगाया है सालाना 16 लाख टन प्लास्टिक कचरा होता है।

यह समय है कि हम सब को पूर्ण विचार करने की जरूरत है plastic waste को कैसे कम किया जाए और इसका इस्तेमाल कम से कम किया जाए और आने वाले समय में हम अपने पर्यावरण और अपने जीवन को अच्छा बना सकें और हमारी आने वाली पीढ़ी generation सुरक्षित रह सके

प्लास्टिक प्रदूषण को कम करने के लिए हमारी सामाजिक जिम्मेदारी

1 प्लास्टिक पॉलिथिन से बचें होम मेड बने बैग used कर सकते हैं

2 रीसायकल प्रक्रिया का इस्तेमाल कर सकते हैं

3 यदि आप भोजन खरीदते हैं, पास्ता जैसे सब्जी, और चावल  रीसायकल बैग का उपयोग कर सकते हैं

4 थर्मोकॉल कप और प्लेट, पानी की बोतल से बचें

Plastics  Environment plastic harmful effects plastic harmful chemicals plastic harmful to animals plastic harmful to humans plastic harmful to health protection and implementation in city what type of polythene ban in city How Many Cities Have a Ban on Plastic Bags how to stop plastic pollution plastic pollution solutions ways to reduce plastic pollution plastic pollution solutions wikipedia plastic pollution essay plastic pollution project beat plastic pollution ways to reduce plastic use

Postbcc provide latest update news, Tips and Trick for technical solution, Biography, Punjab History, indian history, entertainment related content Like and Share Facebook Page

Top