You are here
Home > Health and Food > Chamki Fever AES Causes precautions Symptoms Treatment control

Chamki Fever AES Causes precautions Symptoms Treatment control

Chamki-Fever-AES-Causes-symptoms and precautions

These days, the innocent children of Bihar’s Muzaffarpur district are coming in the grip of dangerous fever and Chamki fever Acute Encephalitis Syndrome (AES), this is related to lechi, poverty and malnutrition. The diagnosis of this type of illness was first revealed to the West Indies by consuming ‘Eki’ fruit like lechi fruit. Japanese encephalitis virus (Chamki Fever) has its endemic zones along the Gangetic plain including states of eastern UP, Bihar, West Bengal, Assam and parts of Tamil Nadu.If you want to avoid this dangerous disease, keep the complete information about its symptoms and treatment.

हिंदी में पढ़ने के लिया पेज को नीचे की और स्क्रोल करो

So we know that we should eat lechi or not eat lechi, And if you want to eat it, when should you eat, Does the Chamki fever Acute Encephalitis Syndrome (AES) cause litchi fruits?

To eat more of litchi by malnourished children is a major cause of Chamki fever Acute Encephalitis Syndrome (AES). This suggests that malnourished children should reduce the intake of litchi fruit. And reduce empty stomach lechi consumption. Keep clean around yourself, do not eat dinner in summer and stale food.

Hypoglycein A and methyl cyclopropyl glycine toxin are found naturally in litchi. These toxins are present in relatively high amounts in acacia litchi. These toxins stop beta oxidation in the body and become hypoglycemia (reducing glucose in the blood) and increase the amount of fatty acids in the blood. Since the glucose storage in children’s liver is low, Due to which a sufficient amount of glucose can not reach the brain through the blood and the brain is severely affected.

Leading cause of sperm fever

To much consume litchi by malnourished children
Amount of humidity and no cleaning
Go to dinner and eat stale food
Live in dirty terrain
To eat more leech in empty stomach by malnourished children
Children eat false and rotten fruit

What are the symptoms of fever

Steady light or sharp pain in the head
Persistent high fever, sluggishness
Seizures like epilepsy (tooth pressing on teeth)
Fainting due to weakness
Feeling very tired and sleepy

Keep such a defense and keep these things in mind

Help the children by posting food at night.
Do not let the kids eat dinner when stale.
Do not allow children to eat empty stomach lechi.
Not in the dirty terrain, keeping your surroundings clean
Do not let the children eat false and rotten fruits
After eating at night, you should definitely light sweet sweet.
Do not let the body suffers from water shortages due to sperm fever

Such treatment and early rescue

As soon as the symptoms of Chamki Fever, (Lychee and Acute Encephalitis Syndrome (AES)) show up, start treating it quickly. Spiral fever is a deadly and dangerous disease. Because treatment can go a little carelessly to the patient’s life.

Dissolve glucose powder or sugar in water.

Take the hospital immediately.

चमकी बुखार का प्रमुख कारण. क्या हैं चमकी बुखार के लक्षण, ऐसे होगा इलाज

इन दिनों बिहार के मुजफ्फरपुर जिले के मासूम बच्चे खतरनाक बुखार, चमकी बुखार (Chamki Fever Encephalitis Syndrome (AES)) की चपेट में आ रहे हैं, इस का संबंध लीची, ग़रीबी और कुपोषण से है. इस तरह की बीमारी का पता सबसे पहले वेस्टइंडीज में लीची फल की तरह ही ‘एकी’ फल का सेवन करने से पता चला था।जापानी एन्सेफलाइटिस वायरस के पूर्वी क्षेत्र, बिहार, पश्चिम बंगाल, असम और तमिलनाडु के कुछ हिस्सों सहित गंगा के मैदान के साथ अपने स्थानिक क्षेत्र हैं। यदि आप इस खतरनाक बीमारी से बचना चाहते हैं तो इसके लक्षण और उपचार के बारे में पूरी जानकारी रखें.

तो जानते हैं कि हमें लीची खाने चाहिए जा नहीं, और अगर खानी चाहिए तो कब खानी चाहिए, क्या चमकी बुखार लीची फल खाने से ही होता है

कुपोषित बच्चों के द्वारा लीची का अधिक सेवन करना चमकी बुखार का प्रमुख कारण है. इससे पता चलता है कि कुपोषित बच्चे ही लीची फल का सेवन कम करें. और खाली पेट लीची का सेवन कम करें. अपने आसपास साफ सफाई रखें, गर्मियों में रात का खाना और बासी भोजन ना करें

चमकी बुखार का प्रमुख कारण

चमकी बुखार Chamki Fever का प्रमुख कारण कुपोषित बच्चों के द्वारा लीची Lichi का सेवन करना है। इसमें अधपकी लीची का सेवन भी शामिल है. ये बच्चे अक्सर बिना eat food खाना खाए ही सो जाते हैं जा फिर रात का खाना (बासी भोजन) खाए ही सो जाते हैं। इस जगह पर ह्यूमिडिटी की मात्रा अधिक होती है. और लोग अक्सर अपने आस-पास सफाई clean नहीं रखते. जिसके कारण चमकी बुखार Chamki Fever होने की संभावना बढ़ जाती है.

चमकी बुखार क्या हैं

लीची में प्राकृतिक रूप से (Hypoglycein A and methyl cyclopropyl glycine toxin) हाइपोग्लाइसिन ए एवं मिथाइल साइक्लोप्रोपाइल ग्लाइसिन टॉक्सिन पाया जाता है। अधपकी लीची में ये toxin अपेक्षाकृत काफी अधिक मात्रा में मौजूद रहते हैं। ये टॉक्सिन शरीर में बीटा ऑक्सीडेशन (beta oxidation) को रोक देते हैं और हाइपोग्लाइसीमिया (hypoglycemia ) (रक्त में ग्लूकोज का कम हो जाना) हो जाता है एवं रक्त में फैटी एसिड्स (fatty acids) की मात्रा भी बढ़ जाती है। बच्चों के लिवर में (glucose storage) ग्लूकोज स्टोरेज कम होता है, जिसकी वजह से पर्याप्त मात्रा में glucose ग्लूकोज रक्त के द्वारा (brain) मस्तिष्क में नहीं पहुंच पाता और मस्तिष्क गंभीर रूप से (affected) प्रभावित हो जाता है।

चमकी बुखार का प्रमुख कारण

कुपोषित बच्चों के द्वारा लीची का सेवन अधिक करना है

ह्यूमिडिटी की मात्रा अधिक होना और सफाई ना रखना

रात का खाना जा फिर बासी भोजन करना

गंदगीभरे इलाके में रहना

कुपोषित बच्चों के द्वारा खाली पेट अधिक लीची का सेवन करना

बच्चों को झूठे व सड़े हुए फल खाने

क्या हैं चमकी बुखार के लक्षण

सिर में लगातार हल्का या तेज दर्द

लगातार तेज बुखार चढ़े रहना, सुस्ती चढ़ना

मिर्गी जैसे झटके आना (दांत पर दांत दबाए रहना)

कमजोरी की वजह से बेहोशी

बहुत ज्यादा थका हुआ महसूस होना और नींद आना

ऐसे करें बचाव और इन बातों का रखें ध्यान

बच्चों को रात में पोस्टिक खाना खिलाकर सुलाएं।

बच्चों को रात का खाना जब बासी खाना ना दे .

बच्चों को खाली पेट लीची का सेवन ना करने दे ।

गंदगीभरे इलाके में ना रही, अपने आसपास में सफाई रखने

बच्चों को झूठे व सड़े हुए फल ना खाने दे

रात को खाना खाने के बाद हल्का फुल्का मीठा जरूर दें.

चमकी बुखार से पीड़ित इंसान के शरीर में पानी की कमी न होने दें

ऐसे होगा इलाज और जल्द बचाव

जैसे ही चमकी बुखार के लक्षण दिखाई दे तो उसका इलाज जल्दी से शुरू कर दे. चमकी बुखार एक जानलेवा और खतरनाक बीमारी है. क्‍योंकि उपचार में थोड़ी सी लापरवाही से मरीज की जान भी जा सकती है।

ग्लूकोज पाउडर या चीनी को पानी में घोलकर दें।

तुरंत अस्पताल ले जाएं।

चमकी बुखार क्या हैं, चमकी बुखार का प्रमुख कारण क्या हैं,

चमकी बुखार के कारण, कॉज, सिम्पटम्स, ट्रीटमेंट

चमकी फीवर, लीची और एक्यूट इन्सेफेलाइटिस सिंड्रोम (एईएस)

 

Chamki Fever Acute Encephalitis Syndrome AES Causes symptoms and precautions control strategy treatment, Encephalitis (Chamki Fever): Causes, Symptoms and Treatment, Chamki Fever Can be Prevented, Acute Encephalitis Syndrome (AES) What is a Chamki fever, what are the main causes of Chamki fever, Causes of Cold Fever, Causes, Symptoms, Treatment Chamki Fever, Lychee and Acute Encephalitis Syndrome (AES)

Chamki Fever Acute Encephalitis Syndrome AES Causes symptoms and precautions control strategy treatment, defense Encephalitis What is a Chamki fever, what are the main causes of Chamki fever, Causes of Cold Fever, Causes, Symptoms, Treatment Chamki Fever, Lychee and Acute Encephalitis Syndrome (AES)

What is caused, Symptoms by Acute Encephalitis Syndrome, Chamki Fever Treatment, What is caused by acute encephalitis syndrome Chamki Fever, What is Symptoms by Acute Encephalitis Syndrome, Chamki Fever
Encephalitis Treatment Precautions AES Chamki Fever

Subscribers and Get More Solution Send Email ID

Postbcc provide latest update news, Tips and Trick for technical solution, Biography, Punjab History, indian history, entertainment related content Like and Share Facebook Page

Recommended For You

Top